दुनिया (International)देश (National)बिज़नेसब्रेकिंग न्यूज़
Trending

Dollar vs Rupee: डॉलर के मुकाबले रुपया 80 के पार, सीतारमण का Indian Currency पर बड़ा बयान

अमेरिकी डॉलर (US Dollar) के मुकाबले रुपये (Rupee) 80 के करीब बना हुआ है। वित्त मंत्री सीतारमण ने संसद में रुपये के टूटने के कारण बताए।

👆भाषा ऊपर से चेंज करें

Dollar vs Rupee Price updates: अमेरिकी डॉलर (US Dollar) के मुकाबले रुपया (Rupee) लगातार कमजोर होता जा रहा है। इससे भारत में महंगाई और बढ़ने के आसार हैं। सोमवार को डॉलर एक बार फिर 80 रुपए के आसपास पहुंच गया। इसके बाद मंगलवार को भी रुपए के टूटने का सिलसिला जारी रहा। मंगलवार को शुरुआती कारोबार में रुपया का निचला स्तर 79.86 और अधिकतम स्तर 80.24 रुपए रहा। दोपहर 12 बजे तक रुपया 79.95 पैसे पर बना हुआ था।

Open Free Demat Account

रुपये की गिरावट का मुद्दा सोमवार को संसद में भी गूंजा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) ने मानसून सत्र के पहले दिन भारतीय मुद्रा में आई गिरावट के कारण गिनाए। सीतारण ने कहा कि Indian Currency के टूटने के लिए वैश्विक कारण जैसे- रूस और यूक्रेन युद्ध (Russia-Ukrain War), अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में तेजी जिम्मेदार है। ALSO READ: रुपया 80/डॉलर की ओर बढ़ रहा, रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद 26 बार रिकॉर्ड लो लेवल पर पहुंचा

विदेशी निवेशकों ने 14 अबर डॉलर निकाले
वित्त मंत्री ने आगे बताया कि रुपये के गिरने का एक और बड़ा कारण है। शेयर बाजार (Stock Market) से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) द्वारा की जा रही बिकवाली। मौजूदा वित्त वर्ष 2022-23 में विदेशी निवेशकों ने अब तक करीब 14 अरब डॉलर निकाले हैं। अकेले जुलाई में ही FPI ने 7400 करोड़ रुपये निकाल लिए हैं।

दुनिया की कई मुद्राओं से रुपया मजबूत हुआ
वित्त मंत्री सीतारमण ने दुनिया की बाकी मुद्राओं का हवाला देते हुए कहा कि पाउंड, येन और यूरो भी भारतीय मुद्रा के मुकाबले ज्यादा कमजोर हुई हैं। मतलब साफ है कि 2022 में इन करेंसी से रुपया मजबूत हुआ है। सीतारमण ने क्रिप्टो करेंसी (Crypto Currency) को लेकर भी बड़ी बात कही। उन्होंने बताया कि RBI का मानना है कि क्रिप्टो पर बैन लगाया जाना जरूरी है। इससे लिए वैश्विक सहयोग की आवश्यकता है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close