क्राइम (Crime)देश (National)
Trending

Amarnath Yatra: अगले आदेश तक टली अमरनाथ यात्रा, 40 लोग अभी भी लापता

शुक्रवार शाम Amarnath में बादल फटने के बाद आए सैलाब में 16 लोगों की मौत हो गई। 60 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। 40 लोग अभी भी लापता है।

👆भाषा ऊपर से चेंज करें

Amarnath Yatra 2022: अमरनाथ (Amarnath) में शुक्रवार शाम बादल फटने (Cloudburst) से अचानक आए सैलाब में कई लोग बह गए। हादसे में 16 लोगों की मौत हो गई, 65 लोग घायल हुए जबकि 40 लोग अभी भी लापता हैं। सैलाब से तीर्थस्थल के बाहर बने आधार शिविर में पानी घुस गया, जिससे 25 टेंट और तीन कम्यूनिटी किचन क्षतिग्रस्त हो गए। हादसे के बाद अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra) को अगले आदेश तक टाल दिया गया हैं।

हालांकि अमरनाथ (Amarnath) गुफा के पास राहत और बचाव अभियान लगातार जारी है। शनिवार सुबह एक बार फिर से बचाव अभियान शुरू किया गया और हेलिकॉप्टर के जरिए छह तीर्थयात्रियों को सुरक्षित निकाला गया। मरीजों को नीलागरार हेलीपैड पहुंचाया जा रहा है जहां पर सैन्य चिकित्सा दल उनका इलाज कर रहे हैं। Read More: हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में खाईं में गिरी बस, स्कूली बच्चों समेत 16 की मौत

राहत अभियान में जुटा वायुसेना का एमआई-17 हेलिकॉप्टर

भारतीय वायुसेना के एमआई-17 हेलिकॉप्टर के जरिए घायल श्रद्धालुओं को मदद पहुँचाई जा रही हैं।अमरनाथ गुफा स्थल से आगे के इलाज के लिए नीलगढ़ बालटाल से श्रीनगर के बीएसएफ शिविर में एमआई-17 हेलिकॉप्टर से ले जाया जा रहा है।

जारी है रेस्क्यू ऑपरेशन

अमरनाथ (Amarnath Yatra) में रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है। भारतीय वायुसेना के एक अधिकारी ने बताया कि अब तक 29 लोगों को बचाया गया है जिनमें से 9 लोग गंभीर रूप से घायल हैं।

घायलों से मिलने पहुँचे उपराज्यपाल

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा घायलों से मिलने अस्पताल पहुँचे। घायलों को हेलिकॉप्टर के जरिए अस्पतालों तक पहुंचाया गया।

शवों को कश्मीर मुख्यालय से पुलिस मुख्यालय ले जाया जा रहा है

श्रीनगर में BSF कश्मीर मुख्यालय से शवों को पुलिस मुख्यालय ले जाया जा रहा है। अब तक कुल 16 शव निकाले जा चुके हैं। बचाव अभियान अभी भी जारी है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close