दिल्ली-NCR
Trending

75th independence day: राष्ट्रवाद के प्रति युवाओं में ऊर्जा का संचार करेगा साइक्लिंग अभियान

भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्ष होने के क्रम में भारतीय सेना और वायुसेना दिल्ली से द्रास तक एक अनोखा साइक्लिंग अभियान शुरू करने जा रही है, जो दो जुलाई,2022 से आरंभ होगा। साइकिल दल में 20 सैनिक और वायु सेना के योद्धा शामिल हैं। 

👆भाषा ऊपर से चेंज करें

अभियान को नई दिल्ली के राष्ट्रीय युद्ध स्मारक से सिग्नल ऑफीसर-इन-चार्ज तथा कोर ऑफ सिगनल्स के सीनियर कर्नल स्टाफ ऑफीसर ले.जन. एमयू नायर एवीएसएम, एसएम, और पश्चिमी वायु कमान के सीनियर एयर स्टाफ ऑफीसर एयर मार्शल आर राधिश एवीएसएम, वीएम ने संयुक्त रूप से झंडा दिखाकर रवाना किया। जिसका नेतृत्व सेना और वायुसेना की दो प्रतिभावान महिला अधिकारी करेंगी । यह अभियान 26 जुलाई तक चलेगा जिसमें 1600 किलोमीटर का सफर तय करना होगा जो द्रास स्थित करगिल युद्ध स्मारक पहुंचेगा। अभियान करगिल युद्ध के दौरान हमारे वीर बलिदानियों द्वारा दिये गये सर्वोच्च बलिदान के प्रति अकिंचन श्रद्धांजलि है।

Open Free Demat Account

युवाओं में ऊर्जा का संचार करेगा अभियान

अभियान का प्रमुख लक्ष्य है कि राष्ट्रवाद के प्रति भारतीय युवाओं में ऊर्जा का संचार करना। यह काम साइकिल दल करेगा और इस दौरान वह रास्ते में अनेक स्थानों पर स्कूली बच्चों से बातचीत करेंगे। इस कदम से देश के भावी नेतृत्वकर्ताओं में उत्साह और जोश पैदा होगा तथा उनकी ऊर्जा को सही दिशा मिलेगी। साइकिल दल का नेतृत्व कोर ऑफ सिगनल्स की मेजर सृष्टि शर्मा करेंगी उन्हें गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस जैसे राष्ट्रीय आयोजनों के लिये वायु रक्षा संचार के क्षेत्र में योगदान देने पर 2021 में वाइस चीफ ऑफ एयर स्टाफ कमेंडेशन कार्ड प्रदान किया गया था।

भारतीय वायु सेना की तरफ से साइकिल दल का नेतृत्व स्कॉड्रन लीडर मेनका कर रही हैं, जिन्होंने अपने दस वर्षीय सेवाकाल के दौरान बीदर, ग्वालियर और देवलाली में लॉजिस्टिक्स अधिकारी के रूप में काम किया है।

हिमाचल प्रदेश में प्रवेश करने से पहले साइकिल दल पंजाब से गुजरेगा। लद्दाख की तरफ बढ़ते हुये अभियान दल को ऊंचाई वाले इलाकों की कड़ी चुनौतियों और ऑक्सीजन की कमी से जूझना होगा। इन चुनौतियों का सामना करने के लिये अभियान दल ने बहुत पहले ही अभ्यास शुरू कर दिया था, ताकि समय रहते दम-खम पैदा किया जा सके। उत्तरी कमान के जनरल ऑफीसर कमांडिंग-इन-चीफ ले.जन. उपेन्द्र द्विवेदी एवीएसएम द्रास से अभियान को झंडी दिखाकर आगे रवाना करेंगे

Tags

Related Articles

Back to top button
Close