दुनिया (International)
Trending

Russia Ukraine Live Updates: खारकीव में भारतीय छात्र की मौत, रूस कर सकता है राजधानी कीव पर बड़ा हमला

👆भाषा ऊपर से चेंज करें

Ukraine Russia War update: खारकीव में भारतीय छात्र की मौत रूस-यूक्रेन के बीच जंग में एक भारतीय छात्र की मौत की खबर है। जानकारी के मुताबिक, खारकीव में रूसी गोलीबारी में छात्र की मौत हुई है।

Free Demat Account

डॉ. एस जयशंकर ने सांसदों को दिए निर्देश
विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने सांसदों से कहा है कि यूक्रेन में फंसे भारतीयों के बारे में जानकारी साझा करने के लिए हमारे कार्यालय से सीधे संपर्क करें। इसके साथ ही उन्होंने ई-मेल आईडी और व्हाट्सएप नंबर भी साझा किए जिन पर सांसद जानकारी साझा कर सकते हैं।

बम शेल्टरों में शरण लें यूक्रेन में फंसे भारतीय: पूर्व सेना प्रमुख
पूर्व सेना प्रमुख जनरल एनसी विज ने कहा है कि यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को जब तक देश वापस नहीं ले आया जाता है तब तक उन्हें बम शेल्टर के अंदर या अन्य सुरक्षित स्थानों पर पहुंचना चाहिए। उन्होंने कहा कि जब तक उन्हें निकालने के लिए व्यवस्था नहीं कर ली जाती है जब तक उन्हें सड़कों पर या युद्धग्रस्त इलाकों में बाहर नहीं निकलना चाहिए। Read More:दिल्ली में शराब के शौकीनों को झटका, दुकानें नहीं दे सकेंगी शराब पर डिस्काउंट

रूस-यूक्रेन के बीच छिड़ी जंग बढ़ती ही जा रही है। बेलारूस में सोमवार को दोनों देशों के बीच हुई वार्ता बेनतीजा रही है। इस बीच रूस ने परमाणु ट्रायड की तैयारी भी शुरू कर दी है। खबरों के मुताबिक, यूक्रेन की राजधानी कीव की ओर 64 किलोमीटर लंबा रूसी सैन्य काफिला बढ़ रहा है। इसकी सेटेलाइट तस्वीरें भी जारी हुई हैं। वहीं संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में इमरजेंसी डिबेट के पक्ष में 29 वोट पड़े हैं। भारत समेत 13 देशों ने इस वोटिंग में भाग नहीं लिया।

सरकार जारी रखेगी निकासी अभियान
यूक्रेन में एक भारतीय छात्र की मौत होने के बाद सरकारी सूत्रों ने कहा है कि यूक्रेन से 9000 से ज्यादा नागरिकों को सुरक्षित वापस लाया जा चुका है और वहां फंसे बड़ी संख्या में छात्र अब सुरक्षित इलाकों में हैं। हम अपने नागरिकों की सुरक्षित वापसी के लिए अपने प्रयास जारी रखेंगे। सूत्रों ने कहा कि रूस और यूक्रेन ने तुरंत सुरक्षित निकासी की हमारी जरूरत पर उत्तर दिया है। उन स्थानों से हम अपने नागरिकों को निकालने में सफल रहे हैं जहां संघर्ष से गतिविधियों पर खतरा नहीं है।

जॉनसन ने की पोलैंड सरकार की तारीफ
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि हमारे यूरोपीय महाद्वीप में एक भयानक आपदा की शुरुआत हुई है। पोलैंड की राजधानी वारसा में उन्होंने कहा कि पोलिश सरकार और यहां के लोग शानदार काम कर रहे हैं। मानवीय संकट से निपटने में यह प्रेरणादायी है। पोलैंड यूक्रेन से निकलने की कोशिश कर रहे लोगों को प्रवेश देने वाले देशों में से एक है। यह यूक्रेन के साथ सीमा साझा करता है।

 

यूरोपीय संसद रूस के खिलाफ कदम उठाने को तैयार
यूरोपीय संसद रूस के तेल और गैस आयात पर यूरोपीय संघ के व्यापक प्रतिबंधों का आह्वान करने के लिए तैयार है। इसने रूस की अर्थव्यवस्था को रणनीतिक रूप से कमजोर हो रही अर्थव्यवस्था और युद्ध छेड़ने की क्षमता पर केंद्रित और भी सख्त प्रतिबंध लगाने का अनुरोध किया है।

 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close