photo galleryदिल्ली-NCRहेल्थ/फूड
Trending

जिसके पास व्ययाम के लिए टाइम नहीं, उसे डॉक्टर के लिए टाइम निकालना ही पड़ेगा

स्वस्थ जीवन शैली, ओजोन परत की कमी की रोकथाम और पर्यावरण संरक्षण के बारे में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से रैली का आयोजन किया गया।

👆भाषा ऊपर से चेंज करें

दिल्ली और इसके बाहरी इलाके के विभिन्न मेडिकल कॉलेजों के 200 से अधिक मेडिकल छात्र और डॉक्टर, अपने सुरक्षा उपकरणों के साथ और अपने उच्चतम उत्साह के साथ, नेशनल मेडिकोज ऑर्गेनाइजेशन दिल्ली प्रांत द्वारा आयोजित, एक साइकिल रैली में भाग लेने के लिए 18 सितंबर की रविवार की सुबह सड़क पर उतरे। यह रैली डॉ संजय राय (अध्यक्ष, एनएमओ दिल्ली), डॉ मुकेश नागर (सचिव, एनएमओ दिल्ली) और डॉ अभिषेक गर्ग (कोषाध्यक्ष, एनएमओ दिल्ली) के निर्देषण में आयोजित की गई।
     स्वस्थ (Healthy)होने का संदेश देते हुए लगभग 10 किमी की साइकिल रैली यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंसेज (UCMS) से शुरू हुई और डॉक्टर राम मनोहर लोहिया अस्पताल (RML) में समाप्त हुई। स्वस्थ जीवन शैली, ओजोन परत की कमी की रोकथाम और पर्यावरण संरक्षण के बारे में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से रैली का आयोजन किया गया था।
     यूसीएमएस में मुख्य अतिथि डॉ अरुणा वाणीकर (अध्यक्ष, यूजी बोर्ड, एनएमसी), एमएएमसी में डॉ पी.एन. पांडे (निदेशक प्रोफेसर और प्रमुख, न्यूरोसर्जरी विभाग, एमएएमसी), एलएचएमसी में डॉ वीरेंद्र कुमार (निदेशक प्रोफेसर, बाल रोग, निदेशक एलएचएमसी) और आरएमएल में एस.पी. सिंह (संसद सदस्य और मुंबई पुलिस में पूर्व आयुक्त) ने सभी को संबोधित करके सभी का उत्साह बढाया और कई तरह के टिप दिए जैसे “जिसके पास व्ययाम के लिए टाइम नहीं, उसे डॉक्टर के लिए टाइम निकालना ही पड़ेगा।” अपना उदाहरण देते हुए एस.पी. सिंह ने कहा कि मेरी फिटनेस का राज भी व्यायम ही है।  
 
     यातायात पुलिस ने सड़कों पर यातायात को नियंत्रित करके रैली के लिए सुरक्षित मार्ग बनाया एवं साइकिल चालकों को रास्ता निर्देशित किया। रैली का समापन समूह फोटो, प्रमाण पत्र वितरण के साथ हुआ।
Tags

Related Articles

Back to top button
Close