अन्य

Government Scheme:आर्थिक स्थिति है कमजोर तो सरकार देगी इस योजना के तहत घर,पढे़ आवेदन की पूरी प्रक्रिया

योजना का उद्देश्य यह है कि जो देश में आर्थिक रूप से कमजोर लोग है जिनके पास रहने के लिए घर नहीं है और वह अपनी जिंदगी झुग्गियों का बस्तियों में रहकर गुजरा करते है पर जिनके पास पैसे भी नहीं होते घर खरीदने के लिए ऐसे लोगो को इंदिरा गाँधी आवास योजना के तहत ग्रामीण इलाकों में पक्के मकान उपलब्ध करवाना है।

👆भाषा ऊपर से चेंज करें

इस योजना को प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के नाम से भी जाना जाता है। सरकार ने इस योजना को शुरू उन सभी लोगों के लिए किया जो BPL श्रेणी जैसे: अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, बिना बंधुआ कर्मचारी (Bonded Employees), अल्पसंख्यक, गैर SC/ST वर्ग में आते है। इंदिरा गाँधी आवास योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगों को घर प्रदान किये जायेंगे ।

https://bit.ly/3IUw56o

योजना का उद्देश्य

इस योजना का उद्देश्य यह है कि जो देश में आर्थिक रूप से कमजोर लोग है जिनके पास रहने के लिए घर नहीं है और वह अपनी जिंदगी झुग्गियों का बस्तियों में रहकर गुजरा करते है पर जिनके पास पैसे भी नहीं होते घर खरीदने के लिए ऐसे लोगो को इंदिरा गाँधी आवास योजना के तहत ग्रामीण इलाकों में पक्के मकान उपलब्ध करवाना है। देश की सरकार साल 2022 तक हाउस फॉर ऑल की सुविधा सभी लोगो को प्रदान कर देगी और इसके लिए जिसने भी आवेदन किया है वह अपना नाम IAY की लिस्ट में देख सकते है यदि उनका नाम Indira Gandhi Awas Yojana List में होगा तो उन्हें घर प्रदान कर दिया जायेगा और यदि उनका नाम लिस्ट में शामिल नहीं हुआ तो वह योजना का दोबारा आवेदन कर सकते है।

IAY (इंदिरा गाँधी आवास योजना) के लाभार्थी

  • देश के विकलांग नागरिक
  • पूर्व सेवा कर्मी लोग
  • देश की महिलाएं
  • सभी अनुसूचित जातियां
  • अनुसूचित जनजाति श्रेणी
  • मुफ्त बंधवा मजदूर नागरिक
  • देश की विधवा महिला
  • ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक

इंदिरा गाँधी आवास योजना के तहत आने वाले राज्यों की लिस्ट

  • राजस्थान
  • छत्तीसगढ़
  • गुजरात
  • हरियाणा
  • महाराष्ट्र
  • उड़ीसा
  • केरल
  • तमिलनाडु
  • कर्नाटक
  • जम्मू एंड कश्मीर
  • मध्य्प्रदेश
  • झारखण्ड
  • उत्तर प्रदेश
  • उत्तराखंड आदि

योजनी  की विशेषतायें

  • इस योजना के तहत स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण व मनरेगा के साथ मिलकर व अन्य स्त्रोत के जरिये शौचालय के निर्माण के लिए लोगो को 12000 रुपये की सहायता उपलब्ध करवाई गयी।
  • सभी मैदानी क्षेत्रों के लिए सहायता राशि 70 हजार से बढाकर 1 लाख 20 हजार और पहाड़ी क्षेत्रों व दुर्गम क्षेत्रों के लिए 75000 से बढाकर 1 लाख 30 हजार की गयी है।
  • योजना के तहत आवेदक के खाते में DBT के माध्यम से पैसे ट्रांसफर किये जाते है। इसके लिए आवेदक का स्वयं का बैंक खाता होना बहुत जरुरी है, जो आधार कार्ड से होना अनिवार्य है।
  • IAY के अंतर्गत राष्ट्रीय तकनीकी सहायता एजेंसी की स्थापना हुई जो नागरिको को वित्तीय मदद राशि के साथ मकान के निर्माण कार्य के लिए अन्य सहायता भी प्रदान करती है।
  • केंद्र सरकार द्वारा 3 साला में 35 राज्य में रह रहे BPL श्रेणी वाले अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, बिना बंधुआ कर्मचारी (Bonded Employees), अल्पसंख्यक (MINORITIES), गैर SC/ST वर्ग (NON SC/ ST) नागरिकों को स्वयं का खुद का मकान बनाने हेतु 3 किश्तों में धनराशि प्रदान की गयी।
  • साल 2022 तक देश की सरकार हाउस फॉर ऑल प्रदान करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
  • BPL श्रेणी के सभी परिवार वालो को सरकार पक्के मकान बनवा के देगी।

इंदिरा गाँधी आवास योजना हेतु पात्रता

  • इंदिरा गाँधी आवास योजना का आवेदन करने के लिए आवेदक भारत देश का मूल निवासी होना आवश्यक है।
  • वह लोग जो गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन व्यापन कर रहे है उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, बिना बंधुआ कर्मचारी, अल्पसंख्यक (MINORITIES), गैर SC/ST वर्ग है उन्हें सरकार पक्के मकान उपलब्ध करवाएगी।
  • जिन लोगो के पास घर नहीं है और वह अपना जीवन व्यापन झुग्गी बस्तियों में सड़क किनारे बिताते है उन्हें घर प्रदान किया जायेगा।
  • आवेदक के पास किसी भी प्रकार की सरकारी नौकरी नहीं होनी चाहिए।
  • अगर कोई नौकरी कर रहा होगा तो उसे आय प्रमाण पत्र, 6 महीने की वित्तीय स्लिप, ITR आदि भी जमा करवाने पड़ेंगे।
  • जो व्यक्ति घर खरीदना चाहते है या निर्माण करना चाहते है वह इसका आवेदन कर सकते है।
  • शहर व ग्रामीण क्षेत्र के लोग आवेदन फॉर्म भरते समय अपने पास सभी तरह के महत्वपूर्ण दस्तावेज हमेशा रखे।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • वोटर ID कार्ड
  • पैन कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • आय प्रमाण पत्र
  • BPL श्रेणी प्रमाण पत्र
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • जॉब कार्ड की प्रमाणित फोटो कॉपी

योजना से जुड़ी जानकारी (Indira awas yojana 2022 new)

  • साल 2015 तक इस योजना का सिलेक्शन गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगों के आधार पर किया जाता था, लेकिन अब इस योजना के लाभार्थियों का चयन 2011 की SC लिस्ट के अनुसार किया जाता है।
  • देश के 1 करोड़ परिवार को इंदिरा गाँधी आवास योजना के तहत न्यूनतम 25 स्क्वायर फ़ीट का मकान प्रदान किया जायेगा। इसके साथ-साथ उन्हें अन्य सुविधाएं जैसे बिजली की सुविधा, रसोईघर आदि की सुविधा भी दी जाएगी।
  • योजना के तहत मकान के निर्माण कार्य के लिए सामग्री और डिज़ाइन का प्रयोग किया जायेगा।
  • इंदिरा गाँधी आवास योजना के तहत मकान का निर्माण कुशल श्रमिकों द्वारा किया जायेगा।
  • योजना हेतु आर्थिक सहायता केंद्र तथा राज्य सरकार द्वारा की जाती है जिसमे केंद्र सरकार 60% राशि और राज्य सरकार 40% राशि प्रदान करेगी।
  • और इसके साथ साथ पहाड़ी क्षेत्रों के लिए केंद्र सरकार 90% की राशि और राज्य सरकार 10% राशि मकान हेतु प्रदान करेगी।
  • इंदिरा गाँधी आवास योजना के तहत केंद्रशासित प्रदेशों में घर निर्माण के लिए पूरी वित्तीय राशि केंद्र सरकार प्रदान करेगी।

कैसे करे आवेदन

  • इंदिरा गाँधी आवास योजना आवेदन करने के लिए सबसे पहले PMAY ग्रामीण की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • यहाँ आपके सामने होम पेज खुल कर आजायेगा।
  • होम पेज पर आप आवाससॉफ्ट के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • अब आपको दिए गए ऑप्शंस में से डाटा एंट्री पर क्लिक करना होगा।
  • आपको इन तीन ऑप्शन में से अपने अनुसार लॉगिन करें।
  • लॉगिन करने के लिए आपको अपना यूजर नेम और पासवर्ड चेंज करना होगा
  • और नया यूजर नेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड को भरना होगा।
  • अब आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म खुल कर आजायेगा।
  • आपको फॉर्म में पूछी गयी जानकर जैसे: पर्सनल डिटेल्स, बैंक अकाउंट डिटेल्स, कन्वर्जेस डिटेल्स, डिटेल्स फॉर कंसर्नड ऑफिस आदि भरना होगा।
  • सभी जानकरी भरने के बाद फॉर्म में मांगे गये दस्तावेज को अपलोड कर दें।
  • अब आप सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद आपकी IAY रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
Tags

Related Articles

Back to top button
Close